Network Security Kya Hai

नेटवर्क सुरक्षा किसी भी उद्यम या संगठन द्वारा हार्डवेयर और सॉफ्टवेयर सिस्टम दोनों का उपयोग करके अपने कंप्यूटर नेटवर्क और डेटा को सुरक्षित रखने के उपायों को संदर्भित करता है. इसका उद्देश्य डेटा और नेटवर्क की गोपनीयता और पहुंच को सुरक्षित करना है. प्रत्येक कंपनी या संगठन जो बड़ी मात्रा में डेटा को संभालता है उसके पास कई साइबर खतरों के समाधान की एक डिग्री है.

नेटवर्क सुरक्षा का सबसे मूल उदाहरण पासवर्ड सुरक्षा है जहां नेटवर्क का उपयोगकर्ता खुद को चुनता है. हाल के समय में, नेटवर्क सुरक्षा साइबर सुरक्षा का केंद्रीय विषय बन गया है जिसमें कई संगठन ऐसे लोगों के आवेदन आमंत्रित कर रहे हैं जिनके पास इस क्षेत्र में कौशल है. नेटवर्क सुरक्षा समाधान कंप्यूटर सिस्टम की विभिन्न कमजोरियों की रक्षा करते हैं जैसे -

  1. Users

  2. Locations

  3. Data

  4. Devices

  5. Applications

Network Security Working

नेटवर्क सुरक्षा का मूल सिद्धांत परतों में विशाल संग्रहित डेटा और नेटवर्क की रक्षा करना है जो नियमों और विनियमों का एक बिस्तर सुनिश्चित करता है जिन्हें डेटा पर किसी भी गतिविधि को करने से पहले स्वीकार किया जाना चाहिए. ये स्तर हैं -

  1. Physical

  2. Technical

  3. Administrative

इन्हें नीचे दिए गए अनुसार समझाया गया है -

Physical Network Security

यह सबसे बुनियादी स्तर है जिसमें डेटा और नेटवर्क की रक्षा करना शामिल है हालांकि अनधिकृत कर्मियों को नेटवर्क की गोपनीयता पर नियंत्रण प्राप्त करने से रोकता है. इनमें बाह्य परिधीय शामिल हैं और केबल कनेक्शन के लिए राउटर का उपयोग किया जा सकता है. बायो-मीट्रिक सिस्टम जैसे उपकरणों का उपयोग करके इसे प्राप्त किया जा सकता है.

Technical Network Security

यह मुख्य रूप से नेटवर्क में संग्रहीत डेटा या नेटवर्क के माध्यम से संक्रमण में शामिल डेटा की सुरक्षा पर ध्यान केंद्रित करता है. यह प्रकार दो उद्देश्यों को पूरा करता है. एक अनधिकृत उपयोगकर्ताओं से सुरक्षा और दूसरा दुर्भावनापूर्ण गतिविधियों से सुरक्षा.

Administrative Network Security

नेटवर्क सुरक्षा का यह स्तर उपयोगकर्ता के व्यवहार की सुरक्षा करता है जैसे कि अनुमति कैसे दी गई है और प्राधिकरण प्रक्रिया कैसे होती है. यह परिष्कार के स्तर को भी सुनिश्चित करता है कि नेटवर्क को सभी हमलों के माध्यम से इसे बचाने के लिए आवश्यकता हो सकती है. यह स्तर आवश्यक संशोधनों का भी सुझाव देता है जो बुनियादी ढांचे पर किए जाने हैं.

Types of Network Security

नेटवर्क प्रतिभूतियों के कुछ प्रकार नीचे दिए गए हैं -

Access Control

प्रत्येक व्यक्ति को नेटवर्क या उसके डेटा तक पहुंच का पूरा भत्ता नहीं होना चाहिए. इसकी जांच करने का एक तरीका प्रत्येक कर्मियों के विवरण से गुजरना है. यह नेटवर्क एक्सेस कंट्रोल के माध्यम से किया जाता है जो यह सुनिश्चित करता है कि केवल कुछ मुट्ठी भर अधिकृत कर्मचारी ही संसाधनों की अनुमत मात्रा के साथ काम करने में सक्षम हों.

Antivirus and Anti-malware Software

इस प्रकार की नेटवर्क सुरक्षा यह सुनिश्चित करती है कि कोई भी दुर्भावनापूर्ण सॉफ़्टवेयर नेटवर्क में प्रवेश न करे और डेटा की सुरक्षा को खतरे में डाले. वायरस, ट्रोजन, वर्म्स जैसे दुर्भावनापूर्ण सॉफ़्टवेयर उसी द्वारा नियंत्रित किए जाते हैं. इससे यह सुनिश्चित होता है कि न केवल मालवेयर की एंट्री सुरक्षित है बल्कि यह भी है कि एक बार प्रवेश करने के बाद सिस्टम लड़ने के लिए अच्छी तरह से सुसज्जित है.

Cloud Security

अब एक दिन बहुत सारे संगठन क्लाउड तकनीक के साथ हाथ मिला रहे हैं जहां इंटरनेट पर बड़ी मात्रा में महत्वपूर्ण डेटा संग्रहीत है. यह दुर्भावनापूर्ण है कि कुछ अनधिकृत डीलरों से संबंधित हो सकता है. इस डेटा को संरक्षित किया जाना चाहिए यह सुनिश्चित किया जाना चाहिए कि यह सुरक्षा किसी भी चीज़ पर खतरे में नहीं है. कई व्यवसायों ने अपने कुछ कर्मचारियों को क्लाउड पर संग्रहीत डेटा तक पहुंचने की अनुमति प्रदान करने के लिए सास अनुप्रयोगों को गले लगाया. इस प्रकार की सुरक्षा डेटा की दृश्यता में अंतराल बनाने में सुनिश्चित करती है.